4-5 दिनों तक रहेगा दिल्ली-NCR में स्मॉग, IMA बोला- तत्काल बंद हों स्कूल

0
229

दिल्ली-एनसीआर में सोमवार शाम से ही जहरीला स्मॉग छाया हुआ है। जहां सोमवार की शाम को स्मॉग की वजह से विजिबिलिटी घटकर 500 मीटर तक पहुंच गई थी, वहीं मंगलवार सुबह हालात और बदतर हो गए। स्मॉग के चलते दिल्ली के कई इलाकों में विजिबिलिटी 100 मीटर से भी कम रही।

मौसम विभाग का कहना है कि जहरीले स्मॉग का कहर तीन से पांच दिनों तक ऐसा ही बना रहेगा। मंगलवार सुबह लोगों ने पाया कि दिल्ली-एनसीआर स्मॉग की चादर लपेटे हुए है।

उधर, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने दिल्ली में हेल्थ एमरजेंसी घोषित किया है।  IMA अध्यक्ष डॉक्टर केके अग्रवाल के मुताबिक,दिल्ली-एनसीआर में तत्काल स्कूल बंद किए जाने चाहिए।

दिल्ली के कई इलाकों में एयर क्वॉलिटी ‘बेहद खराब’ की कैटिगरी में बनी हुई है। दिल्ली के लोधी रोड का बुरा हाल है। वहीं, इंडिया गेट के आसपास भी हालात बदतर हैं।

हवाई और रेल यातायात भी प्रभावित

दिल्ली-एनसीआर में छाए स्मॉग ने रेल के साथ-साथ हवाई यातायात पर भी असर डाला है। स्मॉग की वजह से जहां 12 ट्रेनें देरी से चल रही हैं।

वहीं, मंगलवार सुबह दिल्ली में लोगों की सुबह ने उन्हें साल 2016 में छाए स्मॉग की याद दिला दी। स्मॉग की वजह से लोगों को काफी दिक्कतें हो रही थीं।

मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया है कि तीन-चार दिन बाद ही इससे राहत की उम्मीद है। पिछले साल दीपावली पर स्मॉग छा गया था, जिस कारण लोगों को बहुत ज्यादा परेशानी हुई थी। साधारणतया तौर पर कोहरे की स्थिति तब होती है जब विजिबिलिटी 200 मीटर से कम होती है।

एनसीआर का भी बुरा हाल

मंगलवार सुबह धुंध इतनी थी कि 50 मीटर तक देखना भी मुश्किल हो गया है। वहीं नोएडा और गाजियाबाद में एयर क्वालिटी इंडेक्स 400 के पार पहुंच गया है। माना जा रहा है कि अगर इसमें सुधार नहीं हुआ और एयर क्वालिटी इंडेक्स का स्तर 450 के पार होता है तो स्कूलों को कुछ दिनों के लिए बंद करना पड सकता है।

स्मॉग के चलते भिड़े दर्जनभर वाहन, तीन सीआरपीएफ के जवानों सहित 14 लोग घायल 

वहीं, हापुड़ में स्मॉग के कारण एनएच-9 (पूर्व में 24) बाईपास पर सीआरपीएफ के जवानों के दो ट्रक समेत एक दर्जन वाहन आपस में भिड़ गए। हादसे में तीन सीआरपीएफ के जवानों सहित 14 लोग घायल बताए जा रहे हैं। घायलों को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया। जानकारी के मुताबिक,  सीआरपीएफ के जवान असम से दिल्ली लौट रहे थे।

स्मॉग में बरतें सावधानी

1. प्रदूषण का स्तर बढ़ने पर घर से बाहर जाने से बचें।
2. धूप निकलने के बाद ही घर से बाहर निकलें।
3. अगर किसी बीमारी की दवाएं ले रहे हैं तो रेग्युलर लेते रहें। ऐसा न करने पर हालत खराब हो सकती है।
4. सर्दी के मौसम में ज्यादा एक्सर्साइज (ब्रिस्क वॉक या जॉगिंग आदि) न करें। प्राणायाम और योग करना ही काफी होगा।
5. सर्दियों में अगर बाहर निकलना ही पड़े तो अच्छी क्वॉलिटी का मास्क लगाकर निकलें।
6. टू व्हीलर या ऑटो में सफर की बजाय टैक्सी या कंट्रोल माहौल वाले मेट्रो या एसी बसों में ही यात्रा करें।

7. बीमार हों या हेल्दी, हो सके तो स्मॉग में बाहर न निकलें।
8. अगर निकलना भी पड़े तो मास्क लगा कर निकलें।
9. सुबह के वक्त काफी स्मॉग रहता है इसलिए बेहतर होगा सुबह 5-6 बजे की बजाय धूप निकलने के बाद करीब 8 बजे वॉक पर जाएं।

 

 

Source: jagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here