क्यों इस जंगल के लोगों का भोजन होते हैं इंसान, यहां मिलते हैं 30 से 75 फिट तक के सांप

0
491

दुनिया में बहुत से ऐसे स्थान हैं जो कि बेहद खतरनाक हैं। आज हम आपको एक ऐसे ही स्थान के बारे में बता रहें हैं। इस स्थान का नाम हैं “अमेज़ोन के जंगल”, ये साउथ अमेरिका के 50 लाख वर्ग मील के क्षेत्र में फैला हैं तथा आसपास के 9 देशों तक इसका विस्तार हैं। यह स्थान दुनिया के खतरनाक स्थानों में से एक माना जाता हैं। इस स्थान पर यदि कोई खोजकर्ता जाता हैं तो यहां के निवासी उसको अपना भोजन बना लेते हैं और उसकी खोपड़ी को अपने घर के बाहर लटका देते हैं।

सामान्य तौर पर यह जंगल यहां मिलने वाली पीरान्हा मछली के लिए प्रसिद्ध हैं। यह मछली बहुत खतरनाक होती हैं। इन जंगलों में 1922 में एक कैथोलिक पादरी पंहुचा था और उसने यहां करीब 75 फिट लंबा सांप देखा था। इस घटना के 7 वर्ष बाद उसने उतना ही लंबा सांप पानी में तैरता हुआ देखा। आपको बता दें कि अमेज़ोन के जंगलों में करीब 30 फिट तक के सांप आमतौर पर दिखाई पड़ जाते हैं।

एक घटना इन जंगलों में 2009 में भी घटी थी। उस समय ब्राजील के जंगल में Ocelio Alves de Carvalho नामक 19 वर्षीय एक युवक कुलीना जनजाति के बीच फंस गया था। इस युवक को ये लोग मार कर खा गए थे। वहीं पेरू के अमेज़ोन जंगलों में एक नदी पाई जाती हैं। इस नदी के पानी का तापमान 93 डिग्री तक का होता हैं इसलिए इसमें कोई मछली नहीं मिलती।

अगर कोई गलती से इस नदी में गिर जाता हैं तो वह जीवित नहीं बचता। इन जंगलों में बहुत से कबीले हैं। जिनके बीच अपने-अपने इलाके के विस्तार को लेकर समय समय पर लड़ाई होती रहती हैं। कहते हैं कि लड़ाई में जिन लोगों को मार डाला जाता हैं उनकी स्त्रियों तथा बच्चों को गुलाम बना लिया जाता हैं।

इन जंगलों में tarantulas नामक एक विशाल मकड़ी भी पाई जाती हैं। माना जाता हैं कि ये कुत्ते तक को खा जाती हैं। इन जंगलों के लोगों पर किसी भी देश की सरकार का अधिकार नहीं है। जंगलों में किसी भी प्रकार से घुसा व्यक्ति यदि इनके हाथ आ जाता है तो ये लोग उसको टार्चर कर मार डालते हैं।

 

 

Read More Source: wahgazab

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here