एक ऐसा गांव, धनगवां जहाँ हर एक कदम पर गढ़ा हैं धन, लोग कहते हैं इसे “धन का गांव”

0
304

आप लोगो ने कहावत तो सुनी ही होगी की भगवान जब भी देता है छप्पर फाड् कर देता है, यह कहावत बिलकुल सही है एक ऐसे गाँव के लिए जिसका नाम है धनगांव हम लोगों ने अब तक गढ़े हुए खजाने का जिर्क सिर्फ कहानियों में ही सुना होगा पर वास्तव में खजाना सिर्फ कहानियों में ही नहीं बल्कि असली होता हैं और यह कहीं और नही हमारे अपने देश में हैं। आज भी कई स्थानों पर गढ़ा खजाना मिलता हैं। भारत के श्रीपद्मनाभस्‍वामी मंदिर में जो खजाना मिला उसके बारे में तो सभी जानते ही हैं। हालांकि अभी भी उसका एक द्वार खोला नही गया।

प्राचीन समय में भारत पर विदेशी लोग खजाने के लिए आक्रमण करते थे और जो भी कीमती सामान मिलता था उसे लूट लेते थे, इसलिए लोग अपने खजाने को जमीन में गाढ़ देते थे ताकि वह छुपा रहें। आज हम आपकों भारत के एक ऐसे ही गांव के बारे में बता रहें हैं जहां हर कदम पर खजाना गढ़ा हैं। आपको बता दें कि यह गांव राजस्थान के जबलपुर में हैं और इसका नाम “धनगवां” हैं।
धनगवां गांव में खजाने की खोज के लिए बाहर से भी लोग आते हैं। गांव के लोगों का मानना हैं कि इस गांव की जमीन के नीचे इतना खजाना हैं कि इस गांव को शहर बनाया जा सकता हैं। धनगवां गांव में यदि कोई व्यक्ति मकान बनवाता हैं तो उस स्थान पर घर बनवाने वाला मालिक भी मौजूद रहता हैं ताकि जमीन से निकला खजाना कहीं मजदूरों के हाथ न आ जाएं।

असल में यहां जमीन से खजाना निकलना आम बात हैं। गांव के लोगों का कहना है कि इस गांव में कम से कम 10 स्थान ऐसे हैं जहां पर बड़ी मात्रा में खजाना गढ़ा हुआ हैं। माना जाता है कि वह खजाना काफी बढ़ी मात्रा में हैं जो किसी को भी अमीर बना सकता हैं। देखा जाए तो राजस्थान में जमीन से खजाना निकलना बड़ी बात नहीं हैं क्योंकि यहां बहुत से राजा हुए हैं और वे आक्रमणकारियो से अपने खजाने को बचाने के लिए अक्सर उसे जमीन में गढ़वा देते थे।

ऐसी ही और रोचक किस्सों के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक कीजिये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here