भारत-न्यूज़ीलैंड मैच में घटी अजीब घटना को, देख कर सभी ने दबा ली दांतों तले अंगुलियां

0
317
Nagpur: New Zealand players celebrates the wicket of India's batsman Rohit Sharma during the ICC T20 World Cup match played in Nagpur on Tuesday. PTI Photo (PTI3_15_2016_000394B)

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच खेला गया टी-20 मैच में एक ऐसा नज़ारा देखने को मिला जो क्रिकेट के मैदान पर कम ही देखने को मिलता है। इस मैच में कुछ ऐसा हुआ जिसे देख कर सब हैरान रह गए। क्योंकि इस मैच में एक गेंद पर दो रेफरल लिए गए। जी हां, सही पढ़ रहे हैं आप इस मुकाबले में एक गेंद के लिए दो-दो रेफरल इस्तेमाल किए गए।

एक गेंद पर डबल रेफरल

भारतीय पारी के 19वें ओवर की आखिरी गेंद पर न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट का सामना रोहित शर्मा कर रहे थे। बोल्ट ने गेंद फेंकी और कैच आउट की जबरदस्त अपील की लेकिन विकेटकीपर टॉम लाथम पूरी तरह कंफर्म नहीं थे और इसी कारण मैदानी अंपायरों ने तीसरे अंपायर से पूछा। हालांकि मैदानी अंपायरों का पहला फैसला आउट ही था। बोल्ट ने यह गेंद यॉर्कर फेंकी थी और गेंद उनके बल्ले से लगकर विकेटकीपर के पास गई। अंपायर कैच को लेकर सुनिश्चित नहीं थे और वे चेक करना चाहते थे कि ये बंप गेंद तो नहीं लेकिन तीसरे अंपायर अनिल चौधरी ने कहा कि बल्ला मैदान से लगा है और उन्होंने नॉटआउट का फैसला दिया। इस फैसले से न्यूज़ीलैंड की टीम पूरी तरह संतुष्ट नहीं थी और इसके बाद उन्होंने रिव्यू लिया और अल्ट्रा एज में साफ दिख रहा था कि गेंद बल्ले से लगकर दस्ताने में समा गई और फिर चौधरी को ही अपना फैसला पलटते हुए आउट देना पड़ा। इसी के साथ रोहित शर्मा की 80 रन की पारी पर भी ब्रेक लग गया।

सबसे बड़ी साझेदारी 

रोहित और शिखर पिछली 11 टी-20 पारियों में 50 रन से ज्यादा की ओपनिंग साङोदारी नहीं कर सके थे लेकिन इस मैच में उन्होंने भारत के लिए किसी भी विकेट के लिए सबसे बड़ी 158 रनों की साझेदारी की। इससे पहले भारत के लिए टी-20 में सबसे बड़ी साझेदारी 138 रनों की थी जो रोहित और विराट ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ धर्मशाला में बनाई थी। दोनों ने शुरू से ही आक्रामक रुख अपनाया क्योंकि उन्हें पता था कि भारत को बाद में गेंदबाजी करनी है और ओस के कारण मेजबान टीम के गेंदबाजों को काफी दिक्कत होगी। अगर 200 से ज्यादा स्कोर नहीं बनता भारतीय टीम को लक्ष्य बचाना काफी मुश्किल होता और यही टारगेट लेकर इन दोनों ने बल्लेबाजी की।

भारत को मिली पहली जीत

कोटला के मैदान पर न्यूज़ीलैंड के खिलाफ मिली 53 रन की ये जीत खास रही क्योंकि भारतीय टीम ने पहली बार न्यूजीलैंड को टी-20 मैच में मात दी। इससे पहले खेले गए 6 मैच खेले में से पांच मैचों में भारत को हार का सामना करना पड़ा था, वहीं एक मैच बिना निर्णय के रहा था।

नेहरा को जीत से मिली विदाई

भारत के तेज़ गेंदबाज़ आशीष नेहरा अपने घरेलू मैदान पर अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला। नेहरा ने टेस्ट क्रिकेट में 44 विकेट अपने नाम किए हैं तो वहीं वनडे क्रिकेट में उनके नाम 157 शिकार किए हैं। टी-20 फॉर्मेट में नेहरा के नाम 34 विकेट दर्ज़ हैं। नेहरा के इस अंतिम मैच में भारतीय टीम ने ‘नेहरा जी’ को जीत के साथ विदाई दी और न्यूज़ीलैंड के खिलाफ टी-20 में अपनी पहली जीत भी दर्ज़ कर ली और सीरीज़ में 1-0 की बढ़त भी बना ली। इस जीत के बाद भारतीय खिलाड़ियों ने नेहरा को अपने कंधे पर उठाकर मैदान में घुमाया भी।

 

Source: Jagran

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here